अगर आप डेटिंग एप का इस्तेमाल कर रहें हैं तो जान लें ये टिप्स, हमेशा रहेंगे सुरक्षित

0
118


नई दिल्लीः आजकल लोग एक-दूसरे को रिएलटी से ज्यादा वर्चुअल वर्ल्ड में जानने में ज्यादा दिलचस्पी लेने लगे हैं. इसी का नतीजा है कि तमाम सोशल वेबसाइट्स और एप्स तेजी से आगे बढ़ रहीं हैं. डेटिंग एप एक ऐसा माध्यम जिसके जरिए आप अनजान लोगों से बात करते हैं, उनके बारे में जानते हैं और उनसे मिलते हैं. लेकिन यह कितना सेफ है, इसको लेकर सोशल जगत में बहस जारी है. हाल में ग्लोबल साइबर सिक्योरिटी से जुड़ी एक स्टडी रिपोर्ट में सामने आया है कि ज्यादातर डेटिंग साइट्स और एप्स अपने यूजर्स को पर्याप्त सुरक्षा मुहैया नहीं करवातीं. जैसेः उनकी लोकेशन डिटेल, असली नाम और अन्य संवेदनशील जानकारी डेटिंग एप पर दी गई होती है, जो सुरक्षा के लिहाज से तो बिल्कुल सेफ नहीं है.

ज्यादातर लोग जो पहली बार डेटिंग एप का इस्तेमाल करते हैं या फिर उन्होंने अपने फोन में कई डेटिंग एप्स इंस्टाल की होती हैं, वह समझते हैं कि डेटिंग एप पर उनके द्वारा दी गई जानकारी बिल्कुल गोपनीय है तो ऐसा बिल्कुल नहीं है. ऐसा न होने की सबसे बड़ी वजह सुरक्षा नियमों में ढीली व्यवस्था है. ऐसे में अगर आप डेटिंग एप का इस्तेमाल करते हैं और चाहते हैं कि यह आपके लिए मुसीबत न बने तो हम आपको कुछ ऐसे टिप्स दे रहें हैं, जिनकी मदद से आप खुद को सुरक्षित रख सकते हैं.

ज्यादा जानकारी शेयर करने से बचें: जिस समय आप अपने फोन में डेटिंग एप इंस्टाल करते हैं तो अपने बारे में ज्यादा जानकारी देने से बचें. आप उतनी जानकारी मुहैया करवाएं जितनी आपको संबंधित एप पर रजिस्टर करने के लिए अनिवार्य हो. जानकारों की मानें तो डेटिंग एप पर आप अपना नाम भी बदल सकते हैं. फोन नंबर शेयर करने से बचें. अपनी पर्सनल जानकारी न दें. साथ ही जिस शख्स से आप बात कर रहे हैं उससे मिलने से पहले अपने कॉमन फ्रेंड के जरिए उसके बारे में ठीक से जांच-परख लें. अगर कॉमन फ्रेंड नहीं है तो बात करने से बचें.

विश्वसनीय साइट्स/एप्स पर ही ID बनाएं: डेटिंग साइट्स और एप्स पर रजिस्टर करने से पहले उसके बारे में सही से जानकारी ले लें. साइट के बीच में दिखाने वाले पॉप-अप पर हरगिज क्लिक न करें. साइट और एप के बारे में पता लगाने के लिए उसके फीडबैक डेटा को जरूर पढ़ें. अगर कोई वेबसाइट और एप आपसे आपके क्रेडिट कार्ड की डिटेल मांगे तो सचेत हो जाएं, वह साइट/एप फेक हो सकती है. किसी भी कीमत पर अपने बैंक अकाउंट संबंधी डिटेल किसी के साथ शेयर न करें.

LIVE फीचर का इस्तेमाल न करें: साइबर एक्सपर्ट्स की मानें तो ऑनलाइन डेट के दौरान आप वेब कैमरा आदि का प्रयोग करने से बचें. आपके द्वारा की गई लाइव बातचीत वेब कैमरे पर रिकॉर्ड की जा सकती है. कई बार ऐसा देखा गया है कि गलत मंशा के साथ लोग लाइव के दौरान अपने प्राइवेट मोमेंट्स को रिकॉर्ड कर लेते हैं, जिससे आप मुश्किल में पड़ जाते हैं.

पर्सनल ई-मेल आईडी रजिस्टर न करें: डेटिंग प्रोफाइल बनाने के दौरान अगर मुमकिन हो तो अपनी पर्सनल ई-मेल आईडी का इस्तेमाल न करें. आप इसके लिए एक अलग से आईडी बना सकते हैं या फिर फ्री ई-मेल अकाउंट के जरिए आप डेटिंग एप पर अपना अकाउंट क्रिएट कर सकते हैं. साथ ही इस बात का ध्यान रखें कि आपकी ई-मेल आईडी में आपका पता न दर्ज हो. अगर आप डेटिंग एप पर मिले शख्स से बात करना चाहते हैं तो आप उन एप्स का इस्तेमाल करें जो वॉइस कॉल फीचर मुहैया कराते हों.

संदिग्ध गतिविधियों की रिपोर्ट करें: अगर कोई व्यक्ति आपसे काफी जानकारी मांग रहा हो और आपको कुछ संदिग्ध जान पड़ता हो तो आप फौरन साइट अथॉरिटी को इसकी रिपोर्ट करें. अगर बात ज्यादा ही आगे बढ़ चुकी हो तुरंत पुलिस की साइबर सेल विंग को इसकी सूचना दें.

 

सरेआम गर्लफ्रेंड को किस करते दिखे ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर नाथन लियोन, फोटो सोशल मीडिया पर वायरल

 

 



Read The Story Here

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here